एदे फोटू ल चपक के मुख्य पेज म लहुंटव—

शनिवार, 5 नवंबर 2016

प्रधानमंत्री के तिसरइया दौरा म छत्तीसगढ़ ल तीन सौगात

छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस-2016

अंजोर.रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस-2016 के मउका म प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ह छत्तीसगढ़ के जनता ल तीन बड़का परियोजना के सौगात दीन। मोदी जी के प्रधानमंत्री के रूप ये ऊंखर तिसरइया दौरा रिहिस। ये मउका म ओमन छत्तीसगढ़ के जनता ल बधाई अउ रमन सरकार के कामकाज के बढ़ई करत रिहिन के हम छत्तीसगढ़ ल नवा ऊंचाई तक ले जाए म कभू पाछू नइ राहन। नया रायपुर के राज्योत्सव स्थल के मुख्यमंच ले उत्सव के शुभारंभ करे के पहिली ओकर राज्य के जनता तीन बड़का सौगत तको दिस हवय। 

नंदन वन जंगल सफारी

नया रायपुर म 320 हेक्टेयर म बने जंगल सफारी के लोकार्पण करिन जिहा टाइगर, बीयर, हर्बीवोर अउ लॉयन सफारी शामिल हवय। जंगल सफारी के बीच म खण्डवा जलाशय जिहा नेस्टिंग आइलैण्ड बनाय गे हावय जोन नया रायपुर खातिर एक ऑक्सीजोन आए। लगभग 200 करोड़ रूपिया के लागत ले बने जंगल सफारी के काम 2012 ले शुरू होय रिहिसे। जेमा 50 एकड़ के रकबा म टाईगर सफारी अउ 50 एकड़ म भालु मन बर 'बीयरÓ सफारी, 125 एकड़ म चिड़ियाघर अउ रंग-बिरंगी तितली बर खातिर बटरफ्लाई जोन, 52 एकड़ म जल स्त्रोत बने हावय। 

बस रेपिड ट्रांजिट सिस्टम अउ एकात्म पथ

रायपुर अउ नया रायपुर के बीच सार्वजनिक परिवहन सेवा के तहत। रायपुर म दो पिक-अप पॉइंट, नया रायपुर म 10 बस शेल्टर अउ 01 बस डिपो। जेमा दो कॉरिडोर म 42 कि.मी. रूट म नया रायपुर अउ रायपुर के बीच बस सेवा होही। पहिली खेप म 30 बस चलाय जावथाबे। सीबीडी रेल्वे स्टेशन अउ राजधानी परिसर के बीच 2.25 कि.मी. लम्बाई अउ 200 मीटर की चौड़ाई म 30 करोड़ रूपिया के ले एकात्म पथ बनाये गे हावय। सड़क के बीच म 100 मीटर चौड़ा अउ 2.10 किमी लंबा क्षेत्र म आकर्षक उद्यान तको बने हावय। करीब 50 एकड़ के ये उद्यान म आन-आन प्रजाती के 6 हजार ले आगर पेड़-पौधा लगे हावय। 
इंचे मोदी जी हा पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी की प्रतिमा अनावरण तको करिन। एकात्म पथ म खैरागढ़ के चित्रकार मन मधुबनी, वरली, संथाल, गोन्ड, बांगला अउ बस्तर शैली के सुघर चित्र बनाये हवय। एकात्म मानववाद के प्रवर्तक पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के 15 फीट अउ 14 टन के मूर्ति ह संगरमर के पथरा ले बने हवय, जेन ल जयपुर के पद्श्री अर्जुन प्रजापति ह बनाये हावय।  

सौर सुजला योजना

छत्तीसगढ़ सहित देश भर के जिहा अब तक बिजली नइ पहुंच पाए हावय ओ किसान के खेत म पानी पहुंचाय खातिर सरकार ह ओ मनला सौर ऊर्जा ले चलइया सिंचाई पंप दिही। सौर सुजला योजना के तहत देश भर के अनुसूचित जाति अउ जनजाति वर्ग के किसान मनला साढ़े तीन लाख रूपिया के लागत वाला तीन हार्सपावर के सिंचाई पंप सिरिफ सात हजार रूपिया, पिछड़ा वर्ग के किसान मनला बारह हजार रूपिया अउ सामान्य वर्ग के किसान मनला 18 हजार रूपिया म देही। अइसने पांच हार्सपावर के सिंचाई पंप अनुसूचित जाति अउ जनजाति के किसान मनला दस हजार रूपिया, अन्य पिछड़ा वर्ग के किसान मनला 15 हजार रूपिया अउ सामान्य वर्ग के किसान ल 20 हजार म दे जाही। छत्तीसगढ़ राज सरकार के मुताबिक 11 हजार किसान मनला चालू वित्तीय वर्ष 2016-17 म सौर ऊर्जा आधारित सिंचाई पंप दिए जाही।


शुक्रवार, 21 अक्तूबर 2016

समर्थन मूल्य म धान-मक्का खरीदी 15 नवंबर ले

अंजोर.रायपुर। राज्य सरकार कोति ले खरीफ विपणन वर्ष 2016-17 म न्यूनतम समर्थन मूल्य म धान खरीदी अवइया 15 नवम्बर ले 31 जनवरी 2017 तक करे जाही। अइसने मक्का के 15 नवम्बर ले 31 मई 2017 तक होही। बने धान (ग्रेड-ए) 1510 रूपिया अउ ऑन धान के 1470 रूपिया क्विंटल, मक्का के 1365 रूपिया क्विंटल न्यूनतम समर्थन मूल्य निर्धारित करे गे हावय। ये संबंध म खाद्य, नागरिक आपूर्ति अउ उपभोक्ता संरक्षण विभाग डहर ले प्रदेश के सबो जिला कलेक्टर मनला जानकारी पठो दे गे हावय। जारी परिपत्र के अनुसार खरीफ विपणन एसो 15 क्विंटल प्रति एकड़ के हिसाब ले खरीदी होही। धान के उपार्जन छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी विपणन संघ (मार्कफेड) ह अउ मक्का के उपार्जन छत्तीसगढ़ राज्य नागरिक आपूर्ति निगम डहर ले करे जाही। 

छत्तीसगढ़ सहित गियारा राज्य म मनरेगा के मजदूरी भुगतान खातिर 17 अक्टूबर ले नवा बेवस्था

अंजोर.रायपुर। महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) म काम करइया मजदूर कनके मजदूरी के भुगतान अब केंद्र सरकार हा सोज्झो ऊंकरे बैंक खाता म जमा करही। देशभर म अवइया 17 अक्टूबर ले नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड मैनेजमेंट सिस्टम लागू करे जावथाबे। ये जानकारी मुख्य सचिव के सियानी म मंत्रालय (महानदी भवन) म आयोजित मनरेगा के राज्य स्तरीय सशक्त समिति के बइठका म दे गिस। ये मउका म आगू बताये गिस के मजदूरी के भुगतान के नवा तरीका ल अमल म लाये खातिर विभाग डहर ले भारतीय स्टेट बैंक म अलग खाता खोले गे हावय जेमा सिरिफ सामान अउ प्रशासकीय मद के पइसा आही। अऊ अब मनरेगा म जोन भी काम होही ओकर फोटा मोबाइल एप्प ले अपलोड होही। ये नवा मोबाइल एप्प ल राष्ट्रीय दूरसंवेदी भू-उपग्रह केन्द्र कोति ले बनाये गे हावय। पहिली खेप म छत्तीसगढ़ के तीन जिला-रायपुर, बालोद अउ म दुर्ग इही महीना ले फोटो अपलोड करे के काम शुरू हो जही। दूसरइया खेप म राज्य के आन 24 जिला ल तको शामिल करे जाही। जेखर बर कर्मचारी मनला तकनीकी जानकारी दे जावथाबे अउ अवइया एक नवंबर ले सबो जिला म ये काम शुरू हो जही। 

संयुक्त राष्ट्रसंघ अउ छत्तीसगढ़ सरकार के 'विजन-2030' बर मंथन

अंजोर.रायपुर। संयुक्त राष्ट्रसंघ अउ छत्तीसगढ़ सरकार के संघरा एक दिनी कार्यशाला मंत्रालय (महानदी भवन) म आयोजित करे गे रिहिस जेन म 'विजन-2030' ल लेके कार्य योजना बनाये गिस। राज्य सरकार के मुख्य सचिव के सियानी म भारत के संयुक्त राष्ट्रसंघ के स्थानीय समन्वयक, यूएनडीपी के भारत प्रतिनिधि, भारत सरकार के नीति आयोग के सलाहकार के अलावा छत्तीसगढ़ सरकार के सबो विभाग के अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव, सचिव अउ संबंधित विभाग के विभागाध्यक्ष मन जुरियाए रिहिन हाबे। जानबा होवय के छत्तीसगढ़ के निरंतर विकास खातिर विजन-2030 के लक्ष्य ल लेके राज्य शासन डहर ले कार्ययोजना बनाये जावथाबे।